रिकॉर्ड भारी बारिश, पूर्णिया जिले में बाढ़ का खतरा – सरकार का अलर्ट

पूर्णिया बाढ़ समाचार
बारिश से बेहाल

बिहार सरकार के डिजास्टर विभाग की भविष्यवाणी सही दिखती नजर आ रही है. बिहार सरकार के डिजास्टर विभाग ने बुधवार को ही भारी बारिश की चेतावनी का अलर्ट जारी किया था. 

25 जून के सुबह से ही पूर्णिया जिले के लगभग सभी प्रखंड में रिकॉर्ड बारिश दर्ज किया गया है. मौसम विभाग के अनुसार, बीते 8 घंटों में 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश दर्ज किया गया है. 

वज्रपात से कई लोगों की मौत की आशंका

वज्रपात से कई लोगों की मौत की आशंका है परंतु अभी तक आधिकारिक तौर पर किसी की मौत की खबर नहीं आई है. सोशल मीडिया के अनुसार पूर्णिया जिले के अमौर प्रखंड एक व्यक्ति की मौत की खबर आई है. 

सरकार ने जारी किया अलर्ट

बिहार सरकार ने बिहार के 38 जिलों में से 10 जिलों को रेड जोन में रखा है. रेड जोन में उन जिलों को रखा गया है जहां पर समान्य से अत्यधिक भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है. रेड जिलों के 10 जिले – पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, सहरसा और मधेपुरा में भारी से भारी बारिश की स्थिति बन रही है. 

सरकार ने 10 और जिले को ऑरेंज जोन में रखा है जिनके नाम – सिवान, सारण, मुजफ्फरपुर दरभंगा, वैशाली, शिवहर समस्तीपुर, कटिहार, भागलपुर, बांका, मुंगेर, खगड़िया और जमुई. इन जिलों में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है. 

नेपाल से भारी बारिश का समाचार मिला है

नेपाल के तराई क्षेत्रों में भारी बारिश का समाचार मिला है. वहां पर पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश हो रही है. जिससे जनजीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है. 

सीमांचल की ज्यादातर नदियों में उफान देखने को मिल रहा है

कोसी नदी में बाढ़
कोसी नदी का मौजूदा चित्र

पूर्णिया के प्रमुख नदियों में पहले से ही उफान था. पिछले 8 घंटों के बारिश ने चिंताएं बढ़ा दी है. जानकारों का मानना है कि इस तरह के अगर बारिश लगातार दो-तीन दिनों तक हुआ तो 2017 जैसा बाढ़ आ सकता है. 

आपको बताना चाहता हूं कि बिहार में सबसे अधिक बारिश किशनगंज और अररिया जिले में रिकॉर्ड किया गया है. सीमांचल क्षेत्र में देखा गया है कि अररिया एवं किशनगंज जिले में सबसे पहले बाढ़ आता है.

लगता है की पूर्णिया में फिर से लॉक डाउन हो गया है

सुबह से हो रही बारिश ने पूर्णिया शहर में भारी जलजमाव कर दिया है. सुबह से लगातार हो रही बारिश 5 मिनटों के लिए भी नहीं रुका है. 

ऐसे में पूरा शहर सुनसान लग रहा है कोई भी अपने घर से निकल नहीं पाए हैं. ऐसा एहसास होता है कि फिर से पूर्णिया शहर में कोई लॉक डाउन हो गया है.

मानसून के भारी बारिश ने लोगों में चिंताएं बढ़ा दी हैं. लोग पहले से ही कोरोना की मार झेल रहे हैं. प्रश्न उठता है कि क्या ऐसे में एक नई आपदा दस्तक देने वाली है? Comment मैं जरूर बताएं. 

 

2 thoughts on “रिकॉर्ड भारी बारिश, पूर्णिया जिले में बाढ़ का खतरा – सरकार का अलर्ट”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close