हवाई जहाज का टिकट खरीदने में यह सावधानी जरूर अपनाएं वरना महंगा पड़ सकता है

अगर आपने गलत तरीके से हवाई जहाज का टिकट खरीदा है तो आपको भारी जुर्माना चुकाना पड़ सकता है, जेल तक जाना पड़ सकता है. 

हवाई जहाज का टिकट

जी हां मित्र, मैं आपको डरा नहीं रही हूं सिर्फ सचेत करना चाहती हूं. इस लेख में आपको बताया जाएगा कि टिकट खरीदने में हमें किस प्रकार से सावधानी बरतनी चाहिए. 

कोशिश करें कि दलाल, ब्रोकर या एजेंस से हवाई जहाज के टिकट ना खरीदें

अगर आप हवाई जहाज की यात्रा करने के लिए टिकट किसी एजेंट या दलाल से खरीदते हैं तो ऐसे में आपको कभी कभार बड़ी परेशानी हो सकती है. 

टिकट बुक करने वाले एजेंट के पास काम हमेशा ज्यादा होता है और वह ज्यादा पढ़े लिखे भी नहीं होते हैं. आपका नाम या जेंडर आदि को गलत भर देते हैं. जिससे आपका टिकट और अमान्य हो जाता है. 

यह बात आपको तब पता चलता है, जब आप बोर्डिंग पास लेने के लिए एयरपोर्ट पहुंच चुके हैं. उस समय आपके पास कोई भी दूसरा विकल्प नहीं होता है. 

जरूर पढ़ लीजिए बहुत काम का जानकारी है

  1. हवाई जहाज का वजन कितना होता है? जानिए 
  2. एरोप्लेन कितने में मिलती है? सही जानकारी
  3. हवाई जहाज का एवरेज एवं इंधन का रेट – जानें 
  4. दुनिया का 10 सबसे बड़ा हवाई अड्डा एवं भारत
  5. हवाई जहाज का टिकट कितने में मिलता है, जानें 
  6. दुनिया का 10 सबसे बड़ा हवाई जहाज व भारत
  7. हवाई यात्रा बिना परेशानी का कैसे करें जानिए
  8. ऑनलाइन टिकट बुकिंग स्टेप बाय स्टेप जानिए

भरोसेमंद वेबसाइट या मोबाइल एप्लीकेशन से ही हवाई टिकट खरीदना चाहिए

इन दिनों इंटरनेट पर हजारों फैक्ट मोबाइल एप्लीकेशन एवं वेबसाइट हैं जो एयर टिकट बेचने का दावा करते हैं. साथ ही अपने विज्ञापन में बड़े डिस्काउंट देने का वादा भी करते हैं. 

कुछ लोग झांसे में आकर के टिकट खरीद लेते हैं. टिकट खरीदने का तरीका इतना अच्छा बनाया जाता है कि आपको कभी शक भी नहीं होगा कि उन्होंने आपको डुप्लीकेट टिकट दिया है. 

जब आप एयरपोर्ट पहुंचकर के बोर्डिंग पास लेंगे तभी आपको पता चलेगा या आप जब टिकट के पीएनआर नंबर की संख्या को चेक करेंगे तभी पता चलेगा. 

टिकट खरीदने से पहले रिफंड के टर्म कंडीशन को अच्छे से चेक कर लीजिए

हमेशा याद रखेगा कि सस्ते टिकट में रिफंड ना के बराबर होता है. जब आपको कंफर्म यात्रा करना हो तभी आप सस्ता टिकट करने की जुगाड़ लगाएं. 

फिर भी आपको टिकट बुक करने से पहले अच्छे से पता कर लीजिए कि अगर मैं टिकट कैंसिल करूं तो हमें कितना पैसे वापस मिलेगा. 

हवाई यात्रा में कितने केजी समान लेकर यात्रा कर सकते हैं

अक्सर जब लोग सस्ता हवाई टिक खरीदते हैं तो यह देखना भूल जाते हैं कि यात्रा के समय कितना केजी सामान लेकर के साथ जा सकते हैं. 

जब वह एयरपोर्ट पर सामान लेकर के पहुंच जाते हैं और बोर्डिंग पास लेते समय पता चलता है कि आप कितने किलो ही सामान लेकर के फ्री में जा सकते हैं. अन्यथा प्रति केजी आपको इतने रुपए देने होंगे. 

अगर आप इस बात पर ध्यान नहीं देंगे तो आप का सबसे सस्ता टिकट सबसे महंगा टिकट बन जाएगा क्योंकि आप एयरपोर्ट पर सामान को ऐसे ही नहीं छोड़ सकते हैं. 

किसी दूसरे के नाम के टिकट से यात्रा ना करें

जैसे इंडियन रेलवे में सख्त रूल है कि आप किसी दूसरे के टिकट पर यात्रा नहीं कर सकते हैं. उसी प्रकार हवाई जहाज में भी आप दूसरे के टिकट पर यात्रा नहीं कर सकते हैं. 

टिकट खरीदने के बाद जब आप एयरपोर्ट पर बोर्डिंग पास लेते हैं तो उस समय आप के आई कार्ड का मिलान किया जाता है. थोड़ा सा भी अंतर आने पर भी आपके टिकट को रद्द कर दिया जाता है. 

हवाई यात्रा में, टिकट से ज्यादा आपको आईडी प्रूफ की आवश्यकता होती है

जी हां दोस्तों, अगर आप एयरपोर्ट पर बिना टिकट के प्रिंट आउट लिए वे जाते हैं तो कोई दिक्कत नहीं है. अपने स्मार्टफोन पर आप टिकट दिखा सकते हैं. 

किंतु आपको आईडी प्रूफ के लिए पेपर वाला ही आईडी प्रूफ ले कर जाना होगा. एयरपोर्ट में एंट्री के टाइम भी चेक होता है. बोर्डिंग पास लेते समय, ग्रंटेड आप का आईडी प्रूफ चेक होता ही होता है. 

जब कभी आप अपने से हवाई जहाज का टिकट खरीद रहे हैं तो आप इन बातों को जरूर ध्यान रखिएगा

  • पेमेंट करने से पहले अपने नाम के स्पेलिंग का दस्तावेज से मिलान कर लें. 
  • आयु और जेंडर का भी मिला अवश्य कर लें. 
  • आईडी प्रूफ के लिए जिस दस्तावेज का उपयोग करेंगे, वही दस्तावेज के कॉलम को फील करें. 
  • पेमेंट के बटन पर क्लिक करने के बाद रिफ्रेश ना करें जब तक कि पेमेंट ना हो जाए. 

हवाई जहाज का टिकट असली है या नकली जानने के लिए यह तरीके अपनाए 

हवाई जहाज का टिकट असली है या नकली चाहिए

इंटरनेट पर कई वेबसाइट मौजूद हैं जो हवाई जहाज का नकली टिकट बेचते हैं. जो फोटो ऊपर लगा है, वह एक नकली टिकट का है.

इन दिनों टिकट दलाल एवं एजेंट भी इन नकली टिकट का उपयोग पैसे कमाने के लिए करते हैं. जैसे कि आप जानते हैं कि इंडियन रेलवे में रेलवे काउंटर या आईआरसीटीसी की वेबसाइट से ही टिकट बनता है. लेकिन एक टिकट में ऐसा कोई सुविधा नहीं है.

यही असली कारण है कि एयर टिकट में फ्रॉड बढ़ते जा रहा है. आप जब भी किसी एजेंट से टिकट खरीदे हैं तो अपने टिकट की जांच अवश्य कर लें. अक्सर यह लोग धोखा, रिटर्न टिकट पर ज्यादा करते हैं.

  • रेलवे के तरह ही एयर टिकट में PNR संख्या होती है.
  • पीएनआर की जांच आप जिस कंपनी के एरोप्लेन से यात्रा कर रहे हैं, उसके वेबसाइट पर जाकर के चेक कर सकते हैं.
  • या संबंधित कंपनी के कस्टमर केयर को कॉल करके अपना पीएनआर नंबर की वैधता की जांच कर सकते हैं.
निष्कर्ष

हवाई जहाज का टिकट खरीदने के बाद आपको अपने मोबाइल में अलार्म सेट कर देना चाहिए ताकि आपका यात्रा तिथि आने से पहले ही पता चल जाए. क्योंकि आपको एयरपोर्ट समय से 2 से 3 घंटे पहले पहुंचना होता है. 

अगर आप समय पर नहीं पहुंचते हैं तो आपको कोई भी रिटर्न राशि वापस नहीं मिलेगा. यात्रा के बाद टिकट के पीएनआर को सेव रखिए. जब आप दूसरी बार टिकट खरीदेंगे तो आप promo code के रूप में अपना पीएनआर नंबर डालकर के डिस्काउंट पा सकते हैं.

जरूर पढ़ें

  1. सस्ता हवाई टिकट खरीदने का नया तरीका जानिए
  2. एरोप्लेन टिकट बुकिंग प्राइस – ए टू जेड इंफॉर्मेशन
  3. 2021 में भारत में कुल कितने हवाई अड्डे हैं? जानिए
  4. Know More About International & Domestic Airport In India
  5. भारत में कुल कितने अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे हैं?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close