पूर्णिया एयरपोर्ट कब शुरू होगा? जानिए अभी तक क्या-क्या हुआ है, बाकी

पूर्णिया एयरपोर्ट न्यूज़ अपडेट

  • अब टर्मिनल बिल्डिंग बनेगा
  • अधिकृत भूमि दो फेज में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को हस्तांतरित होगा
  • भूमि अधिग्रहण का मामला निपटा, 25 अप्रैल 2022
  • केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जवाब दिया
  • श्री संतोष कुमार कुशवाहा ने लोकसभा में मुद्दा उठाया

पूर्णिया एयरपोर्ट कब शुरू होगा

पूर्णिया एयरपोर्ट आम लोगों के लिए, जल्द अपना दरवाजा खोलेगा: एमएस नश्तर 

पूर्णिया इंटरनेशनल एयरपोर्ट जल्द ही आम लोगों के लिए खुलने वाला है. सालों से उलझा हुआ भूमि अधिग्रहण का मामला का समाधान हो चुका है. यही नहीं अधिकृत भूमि एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को हस्तांतरित भी हो चुका है. 

पूर्णिया के जिलाधिकारी ने एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को सिविल एन्क्लेव बनाने के लिए 52 एकड़ जमीन हस्तांतरित करने की अनुमति दे दी है, जिसके बाद लोगों में, हवाई अड्डा बनने की आस जगी है. 

UDAN योजना के तहत साल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्णिया के चुनापुर एयरपोर्ट से सिविल एन्क्लेव बनाकर हवाई सेवा शुरू करने की घोषणा की थी. इसके लिए 52 एकड़ 18 डिसमिल जमीन का अधिग्रहण किया गया था। 

कहां फंसा हुआ था मामला

लेकिन रैयतों के द्वारा पटना हाईकोर्ट में चले जाने के कारण, और अदालत के द्वारा स्टे लगाने के कारण बीते 6 वर्षो से यह मामला अटका हुआ था. जबकि तीन महीने पहले उच्च न्यायालय ने पूर्णिया के डीएम को मामला सुलझाने के लिए 45 दिन का समय दिया था.

पूर्णिया के तत्काल डीएम राहुल कुमार ने इस काम को बखूबी पूरा कर लिया है. अधिकरण का मामला सुलझाने के बाद उन्होंने अपनी रिपोर्ट को आगे भी भेज दिया है. 

डीएम राहुल कुमार ने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से कहा है कि आवंटित समय अवधि के अनुसार समीक्षा सत्रों के माध्यम से प्रचारित दस्तावेज भू राजस्व विभाग को भेज दिया गया है।

बिहार भू राजस्व विभाग ने 25 अप्रैल 2022 को उसकी सिफारिशों को स्वीकार करते हुए, 2 फेज में कुल 58 एकड़ 18 डिसमिल भूमि एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को दे दिया दिया है. 

आसपास के जिलों को भी इसका फायदा होगा

भूमि अधिकरण का मामला निपटते ही इलाके में खुशी की लहर ईद से पहले ही आ गई है. अब हवाई अड्डा बनने का रास्ता साफ हो चुका है. आम लोगों के लिए एयरपोर्ट का दरवाजा खोलने से आसपास के सभी जिलों के लोगों को फायदा होगा. 

बीते लोकसभा सत्र में स्थानीय सांसद संतोष कुमार कुशवाहा ने इस मुद्दे को लोकसभा में उठाया था. केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने जवाब में कहा था कि, जैसे ही जमीन अधिग्रहण का मामला खत्म हो जाएगा, हम बिल्डिंग का निर्माण कार्य शुरू कर देंगे. 

अब आपको टर्मिनल बिल्डिंग बनने को लेकर अपने नजर को जमाए रखना है. आप की मुहिम में हर समय पूर्णिया एयरपोर्ट डॉट कॉम आपके साथ है. 

कब तक बनेगा पूर्णिया एयरपोर्ट

आप लोग जानते ही होंगे चुना पुर हवाई अड्डा, तत्काल समय वायु सैनिक एयरपोर्ट है. आपको बता दें कि हवाई जहाज के उड़ान भरने के लिए रनवे  पहले से ही तैयार है. 

किसी भी हवाई अड्डे के लिए टर्मिनल बिल्डिंग की आवश्यकता होती है जो कि अभी वायु सेना हवाई अड्डे के पास नहीं है. जब बिल्डिंग का कार्य पूरा हो जाएगा तो मान के चलिए की हवाई अड्डा का दरवाजा आम लोगों के लिए खुल जाएगा.

पूर्णिया एयरपोर्ट के बनने से इलाके का विकास होगा

बिहार क्षेत्र के कई लोग पूर्णिया में एयरपोर्ट बनाने पर जोर दे रहे हैं. निकटतम हवाई अड्डा वर्तमान में पटना और बागडोगरा में स्थित है, जो 200 किलोमीटर से अधिक दूर है। जिससे स्थानीय लोगों को बहुत परेशानी होती थी. 

कुछ जानकार मानते हैं कि, यह रोजगार सृजित करके और अधिक पर्यटकों को लाकर स्थानीय अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने में मदद करेगा। इससे बुनियादी ढांचे और परिवहन विकल्पों में सुधार करेगा. 

पूर्णिया एयरपोर्ट का मुद्दा लोकसभा में 

सांसद संतोष कुशवाहा ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से चालू वर्ष में पूर्णिया से घरेलू उड़ानें शुरू करने का आग्रह किया। उन्होंने इस शहर को फ्लाइट नेटवर्क में शामिल करने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने 2017 में हवाईअड्डे की जमीन अधिग्रहण के लिए संसाधनों का आवंटन किया था. यह पहली बार था जब मामले को उच्च न्यायालय में रखा गया था, जिस पर 9 मार्च को सुनवाई हुई थी। अब जब डीएम मामले की सुनवाई करेंगे, तो उन्हें उम्मीद है कि यह 15 अप्रैल तक हल हो जाएगा। मंत्री को सलाह दी जाती है कि रनवे का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है. 

पूर्णिया जिला से माउंट एवरेस्ट अभियान के लिए 1933 में पहली बार हवाई जहाज ने उड़ान भरी थी, इसके बाद 1956 से यहां एयरपोर्ट सेवा शुरू हुई थी. 252 साल पुराने, देश के प्राचीनतम जिले पूर्णिया में आज तक एयरपोर्ट नहीं बन पाया है. 

1990 में पहली बार उस समय के केंद्रीय मंत्री श्री मुलायम सिंह यादव ने कही थी. बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार 2014 में ही पूर्णिया को इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने का मामला उठाया था, बाद में उन्होंने घोषणा भी की थी. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 18 अगस्त 2015 को पूर्णिया हवाई अड्डा से उड़ान सेवा बहाल करने की घोषणा की गई थी. उसके बाद पूर्णिया वासियों को लगने लगा था कि जो 3 सालों के भीतर उन्हें एयरपोर्ट आम जनता के लिए खुल जाएगा. 

पहले सब किसी को लग रहा था कि सैन्य हवाई अड्डे का रनवे को इस्तेमाल किया जाएगा. घटना के कुछ दिनों के बाद ही, एयरफोर्स अधिकारियों ने बताया कि सैन्य हवाई अड्डे का रनवे बहुत ही पुराना है और इस रनवे का कमर्शियल इस्तेमाल मुश्किल है. 

उसके बाद तय हुआ कि कमर्शियल उड़ान के लिए नया रनवे में का निर्माण होगा. नए रनवे के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हो गई है. मौजूदा समय जमीन अधिग्रहण का मामला पटना हाई कोर्ट पहुंच चुका है. 

पूर्णिया सैन्य हवाई अड्डा से संयुक्त परिचालन के तहत सिविल इनक्लेव एवं संपर्क पथ परियोजना के लिए सिविल विमानन निदेशालय पटना की अधियाचना पर गोआसी के लिए 52.18 एकड़ जमीन अधिग्रहण किया जाना है. 

75 रैयतों से यह भूमि अर्जित की जाएगी. 30 रैयतों से 17.89 एकड़ भूमि का दखल दहानी अधियाचना विभाग को पहले ही भेजा जा चुका है. 7 रैयतों ने हाईकोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया था, जो कि लंबित हैं.

कोरोना काल के कारण भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया में शिथिलता आयी थी.अब फिर से इसमें तेजी आने की संभावना है.

पूर्णिया सैन्य हवाई अड्डा से संयुक्त परिचालन के निमित्त सिविल इनक्लेव एवं संपर्क पथ के निर्माण के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ने 52 एकड़ के अलावा और 16 एकड़ जमीन की मांग जिला प्रशासन के समक्ष रख दी है. 

पूर्णियां के सांसद संतोष कुमार, मधेपुरा के दिनेशचंद्र यादव सुपौल के दिलकेश्वर कामत और बिहार सरकार की मंत्री लेसी सिंह ने संयुक्त रूप से मिल कर मंत्री ज्योतिरादित्य सिघिया को ज्ञापन दिया. एयरपोर्ट को जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की है. 

Twitter पर भी ट्रेंड कराया गया पूर्णिया एयरपोर्ट

बिहार के पूर्णिया जिले में एयरपोर्ट खोलने की मांग को लेकर ट्विटर पर छेड़े गए अभियान को जबर्दस्त सफलता और हजारों लोगों का समर्थन मिला है.

8 अगस्त 2021 के दिन ट्विटर पर #PurneaAirportLA नाम का टि्वटर # चलाया गया, करीब 80000 लोगों ने ट्वीट किया और पूर्णिया एयरपोर्ट के जल्द निर्माण का समर्थन किया.

एयरपोर्ट कब शुरू होगा? अभी तक कोई भी निश्चित डेट लाइन नहीं आया है. अगर यही प्रश्न किसी प्रशासनिक अधिकारी से पूछा जाए तो उसका सीधा असर उत्तर होता है कि, मामला अभी पटना हाई कोर्ट में है. 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close